राम मंदिर के उद्घाटन से पहले बदल गया अयोध्या का नज़ारा

Ram Path Ayodhya : देश के सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल अर्थात अयोध्याजी की पावन धरा पर वर्तमान समय में भगवान श्री राम चंद्र के भव्य मंदिर के निर्माण के साथ अयोध्या आगमन के मार्ग तथा श्रद्धालुओं के दर्शन को सुगम बनाने के लिए मंदिर तक के पहुँच मार्ग को सुदृढ किया जा रहा है।

Ram Path Ayodhya
Ram Path Ayodhya

Ram Path Ayodhya : आगे बढ़ने से पहले हम आपको मानचित्र की सहायता से इन परियोजनाओं की जानकारी देते हैं। बता दें कि रामलला के दर्शनार्थियों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है ऐसे में भक्तों के लिए जनसुविधाओं की आवश्यकता को देखते हुए सबसे पहले राममंदिर तक पहुंच मार्गों को विकसित किया जा रहा है। जिनमें सबसे लंबा है राम पथ जो की अयोध्या के स्पाइन रोड अर्थात सआदत गंज लेकर नयाघाट अयोध्या तक को आता है इस मार्ग के 13 किमी लंबे भाग पर चौड़ीकरण व सुदृढ़करण हो रहा है और इसे रामपथ का नाम दिया गया है।

बता दें कि सआदतगंज बाईपास से श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या तक नगरी क्षेत्र में पड़ने वाले मार्ग का चौड़ीकरण व सौन्दर्यीकरण हो रहा है। यह चौड़ीकरण सआदतगंज से लेकर सिविल लाइंस, रिकाबगंज, नियावां, गुदड़ीबाजार, साहबगंज, बेनीगंज होते हुए नयाघाट तक होगा। जिसके लिए वर्तमान समय में निर्माण कार्य अंतिम चरण में संचालित है।

Read Also
यूपी में हुआ एक और कारनामा, Solar Expressway Bundelkhand

राम मंदिर के साथ अयोध्या को मिलेगी बड़ी सौगात – Ayodhya Railway Station Redevelopment

बता दें कि यह सड़क सआदतगंज से हनुमानगढ़ी तक 30 मीटर (15-15 मीटर), हनुमानगढ़ी से रिकाबगंज चौराहे से 800 मीटर पहले तक 41 मीटर (20.5-20-5 मीटर) और इसके पश्चात नयाघाट तक 20 मीटर (10-10 मीटर) चौड़ी हो रही है।

अयोध्या का स्वरूप परिवर्तन के लिए निर्माणाधीन राम पथ परियोजना की वर्तमान परिस्थिति की दृश्य दर्शाते हुए बता दें कि सआदतगंज से नयाघाट तक 13 किमी लम्बे मार्ग पर ग्राउंड पेनिटेशन मशीन से भूमि का एक्स-रे करने के पश्चात यूटिलिटी डक्ट का निर्माण किया गया है।

Ram Path Ayodhya
Ram Path Ayodhya

जैसा कि आप देख सकते हैं कि किस प्रकार से वर्तमान समय में अयोध्या की मुख्य मार्ग जिसे की स्पाइन रोड भी कहते हैं इसपर इस समय कई स्थानों पर पिच रोड बन चुकी है तथा मार्ग के किनारों पर फुटपाथ आदि का निर्माण कार्य संचालित है। तथा अयोध्या में रामपथ का निर्माण आरएन्डसी कंपनी को दिया गया है।

अधिक जानकारी हेतु बता दें कि अगले वर्ष जनवरी माह में भगवान राम अपने नूतन भवन में विराजमान हो जाएंगे। इसलिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्पष्ट निर्देश जारी कर दिए हैं। इसको लेकर 24 घंटे कार्यदाई संस्था काम कर रही है। इसके अंतर्गत अयोध्या में सड़क चौड़ीकरण करने के पश्चात सड़क के दोनों ओर के भवनों को सजाने संवारने का कार्य भी संचालित है। इसके साथ ही रामपथ के किनारे बने सभी भवनों को पीले रंग में रंगा जा रहा है। इसके अतिरिक्त सभी भवनों पर एक प्रकार की डिजाइन बनाई गई है। नगर क्षेत्र में स्थित दुकानों के शटर पर श्री रामचरितमानस और भगवान राम से जुड़े हुए प्रतीक चिन्हों को प्रदर्शित किया गया है। जिसमें हनुमान जी के शस्त्र गदा का चित्र, भगवान राम के तीर धनुष इसके अतिरिक्त रामानंद संप्रदाय के प्रतीक चिह्न तिलक शंख सहित अन्य धार्मिक चित्रों को उतारा गया है।

Ayodhya Road Development
Ram Path Ayodhya

अयोध्या के सबसे महत्वपूर्ण माने जाने वाले राम पथ का निर्माण तय समय से पहले दिसंबर तक बनकर तैयार हो जाएगा। इसकी डेडलाइन पहले अप्रैल 2024 थी, जिसे अब घटाकर दिसंबर 2023 कर दिया गया है। अर्थात राम मंदिर के उद्घाटन से पहले राम पथ का निर्माण कार्य पूरा कर दिया जाएगा। इसके साथ ही जन्मभूमि पथ, भक्ति पथ, धर्म पथ आदि पर भी निर्माण कार्य तीव्र गति से संचालित है इसके अतिरिक्त लक्ष्मण पथ पर भी कार्य आरंभ होने को है। तथा इन सभी की जानकारी हमारे चैनल पर उपलब्ध है।

Read Also
त्रेतायुगीन बन रहा है राम मंदिर दर्शन मार्ग – Ram Janmbhoomi Path Ayodhya

शुरू हुई नई बुलेट ट्रेन परियोजना Delhi Amritsar Bullet Train

बता दें कि अयोध्‍या में राम मंदिर को जोड़ने वाले तीनों मार्गों, राम पथ, भक्ति पथ व जन्‍मभूमि पथ के दोनों पटरियों के किनारे के भवन एक ही रंग व राम कथा के अनुभूति कराने वाली डिजाइन के ही बनेगें। इसके लिए अयोध्या विकास प्राधिकरण गाइड लाइंस के अनुसार अब यह कार्य स्वयं करवा रहा है।

आपको हम इस राम पथ मार्ग की राइड व्यू दर्शाते हुए बता दें कि मण्डलायुक्त गौरव दयाल भी निर्माणाधीन राम पथ, भक्ति पथ आदि के किनारे आकर्षकता एकरूपकता हेतु कराये जा रहे फसाड डिजाइनिंग के कार्यो का पीडब्लूडी के सम्बंधित अधिशाषी अभियन्ता के साथ निरीक्षण करते रहते हैं। राम पथ के किनारे निर्माणाधीन मल्टीलेवल पार्किंग टेढ़ीबाजार पश्चिमी के सरफेस में कराये जा रहे आरसीसी के ढलाई के कार्यो को देखकर बेहतर ढंग से सजावटी पैटर्न का अनुपालन करते हुये ग्रूव काटने के निर्देश दिये।

Read Also
तीन दशक पुरानी समस्या का अब होगा समाधान

राम मंदिर से पहले तैयार हुआ विश्व का सबसे बड़ा महामंदिर – Swarved Mahamandir

उन्होंने निर्माणाधीन भक्ति पथ का श्रृंगार हाट से लेकर जन्मभूमि तक पैदल चलकर देखा। तथा शेष बचे कार्यो को तीव्र गति से पूरा करने व फुटपाथ का भी निर्माण शीघ्र करने के निर्देश दिये। उन्होंने पथ के किनारे स्थित दुकानों में कराये जा रहे फसाड डिजाइनिंग के कार्यो का अवलोकन करते हुये सम्बंधित अधिकारियों को पथ के किनारे स्थित दुकानों में वॉर्म लाइट लगाने के लिए प्रेरित करने के निर्देश दिये।

महत्वपूर्ण है कि श्रीराम जन्मभूमि को जोड़ने वाले सबसे महत्वपूर्ण राम पथ पर सरकार की दृष्टि है। प्रधानमंत्री के जनवरी 2024 में आगमन को ध्यान में रखते हुए इसका निर्माण कार्य पूरा कराए जाने का लक्ष्य है। अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के साथ ही पूरी अयोध्या को सजाया और संवारा जा रहा है।

Ram Path Ayodhya
Ram Path Ayodhya

योगी सरकार की मंशा है कि जनवरी के प्रथम सप्ताह तक मंदिर निर्माण पूर्ण हो जाए और देश और विदेश के पर्यटक यहां अपने आराध्य के दर्शन कर सकें। इसके लिए एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन समेत अनेक कनेक्टिविटी का विस्तार हो रहा है। जिनकी नवीन जानकारी शीघ्र ही आपको हम अगली वीडियो में देंगे।

मित्रों यदि उपरोक्त दी हुई राम पथ निर्माण की जानकारी आपको पसंद आई हो तो कमेंट बाॅक्स में जय श्री राम अवश्य लिखें एवं यदि कोई सुझाव हो वह भी बताएं।

अधिक जानकारी के लिए वीडियो देखें:-

वीडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *