सोच से परे है CM योगी का विकास मॉडल, बनेगा Prayagraj Ropeway व London Wheel भी

इस पृथ्वी के सबसे बड़े धार्मिक आयोजन महाकुंभ मेले की छटा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शासन में आसमान तक पहुंच गई है। और अब योगी राज में इस अद्भुत महाकुंभ मेले का अनुभव सीधा आकाश से मिलने वाला है (Prayagraj Ropeway).

Mahakumbh
Kumbh Mela Prayagraj

संगम नगरी प्रयागराज में इस बार महाकुंभ 2025 में श्रद्धालुओं को त्रिवेणी संगम का दृश्य कुछ विशेष प्रतीत देगा। प्रदेश की योगी सरकार ने एक महत्वाकांक्षी योजना तैयार की है। जो महाकुंभ दर्शन का अनुभव ही पूरा परिवर्तित कर देगी।

प्रयागराज में आयोजित होने वाला वर्ष 2025 का महाकुंभ अद्भुत एवं ऐतिहासिक होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं इसकी मॉनिटरिंग कर रहे हैं। इसी उद्देश्य से उन्होंने प्रयागराज में प्रदेश के शीर्ष अफसरों के साथ बैठक की और दिव्य और भव्य कुंभ का खाका खींचा। जिसमें उन्होंने मेले के लिए सरकारी खजाना खोल दिया है।

Read Also
खुशखबरी : PM मोदी ने दिया केदारनाथ के भक्तों को रोपवे की सौगात- Kedarnath Ropeway Project

ब्रज तीर्थ विकास परिषद को बड़ी सौगात, अगले वर्ष उद्घाटन

बता दें कि महाकुंभ को सफल बनाने के लिए योगी ने 7800 करोड़ रुपए देने का प्रस्ताव बनाने को कहा है। महाकुंभ में कई नई व्यवस्थाओं का आरंभ होगा। इसमें रोपवे से संगम की सैर करने व मेट्रो जैसी सुविधाओं के आरंभ होने के संभावना भी हैं। महाकुंभ के पहले नगर प्रयागराज अपने नव्य स्वरूप में दिखेगा। यहां 2 से 3 फाइव स्टार होटल बनाने के लिए भी मंथन किया गया है।

Kumbh Mela 2025
Kumbh Mela 2025

यही नहीं मुख्यमंत्री ने 1000 इलेक्ट्रिक बसों के लगाए जाने की कार्य योजना बनाने को कहा है, ताकि यह नगर प्रदूषण मुक्त के रूप में आयोजित किया जा सके। इसके साथ ही साथ उन्होंने ई-रिक्शा संचालन की व्यवस्था किए जाने हेतु भी प्रस्ताव बनाये जाने के लिए कहा है। साथ ही लंदन व्हील की तर्ज पर संगम व्हील बनाने पर भी सहमति बनी। इससे महाकुंभ की भव्यता और बढ़ जाएगी।

इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने महाकुंभ को दिव्य, भव्य, स्वच्छ एवं ग्रीन रूप में आयोजित करने के लिए 2 लाख शौचालय की कार्ययोजना बनाए जाने के लिए कहा है। तथा 54 पार्किंग के लिए 2500 हेक्टेयऱ भूमि की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए प्रस्ताव बनाने का निर्देश दिया है। इसके अतिरिक्त नगर में 300 से अधिक सड़कों का निर्माण होगा। तथा जाम की समस्या से बचने के लिए 9 फ्लाई ओवर व आरओबी बनेंगी।

Prayagraj Ropeway
Ropeway (File pic)

महाकुंभ को यूनिक, अविस्मरणीय, ग्रीन, दिव्य एवं भव्य बनाने के लिए हम हाई टेक्नोलॉजी का प्रयोग किया जाएगा। आपको हम बता दें कि पीडब्ल्यूडी एवं एनएच को प्रयागराज से जोड़ने वाली सभी सड़कों को फोर लेन के रूप में बनाए जाने हेतु कहा गया है। जिसमें रायबरेली से प्रयागराज एवं अयोध्या से प्रयागराज आने वाली सड़क को फोर लेन के रूप में बनाने का निर्देश दिया। तथा पीडब्ल्यूडी एवं सेतु विभाग को आधे-अधूरे निर्माण कार्य को शीघ्र पूर्ण कराने का निर्देश दिया।

Read Also
Exclusive : अयोध्या श्री राम मंदिर निर्माण कार्यशाला में पत्थरों पर होता नक्काशी कार्य

अंतरिक्ष से टेलीस्कोपिक विधि से तैयार हो रहा है Ayodhya Ram Mandir

इन सब में जो सबसे रोमांचक है और जिसकी विशेष जानकारी की प्रतीक्षा कर रहे हैं उस रोपवे परियोजना की जानकारी हेतु बता दें कि प्रयागराज में ऐसा पहली बार होने जा रहा है कि, साधु संतों सहित श्रद्धालुओं व पर्यटकों को रोपवे की सेवा मिलेगी।

London Wheel
London Wheel

महाकुंभ-2025 में संगम दर्शन अलग हटकर हो सकेगा। इसके लिए केबल कार चलाई जाएगी। संगम पर रोपवे की महात्वाकांक्षी परियोजना को महाकुंभ से पहले पूरा किया जाना है। और इसे पीपीपी मॉडल पर चलाने की योजना बनाई गई है। महाकुंभ की परियोजनाओं में संगम पर रोपवे को सीएम योगी आदित्यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्ट के रूप में देखा जा रहा है।

प्रयागराज रोपवे परियोजना की अधिक जानकारी हेतु बता दें कि इसके लिए झूंसी से अरैल के मध्य तीन रोपवे स्टेशन बनाए जाएंगे। और इस योजना पर 60 करोड़ रुपये से अधिक खर्च आने का अनुमान है।

Read Also
अयोध्या में Bhakti Marg Nirman कार्य ने पकड़ी रफ्तार, जानें क्यों हुआ Ayodhya में विरोध

चोरी छिपे हुआ श्री केदारनाथ धाम में बड़ा खेल

पर्यटन विभाग की ओर से इसका खाका प्रस्तुत किया गया है। इसके अनुसार झूंसी में उल्टा किला, अरैल में त्रिवेणी पुष्प परिसर के अतिरिक्त सोमेश्वर महादेव के पास रोपवे स्टेशन बनाए जाएंगे।

सोमेश्वर महादेव के पास स्टेशन बनाने के लिए सर्वे कर लिया गया है। योजना के अनुसार सरकार इसके लिए भूमि उपलब्ध कराएगी। शेष कार्य ठेका लेने वाली कंपनी को करना होगा। किराया निर्धारण और केबल कार के संचालन की भी व्यवस्था कंपनी के जिम्मे ही होगी।पर्यटन विभाग की इस योजना के अंतर्गत केबल कार से एक बार में 20-25 यात्री संगम दर्शन कर सकेंगे।

Yogi Adityanath
CM Yogi Adityanath

इन स्टेशनों से मात्र 10 से 15 मिनट के भीतर पर्यटक संगम दर्शन कर सकेंगे। पीपीपी मॉडल पर तैयार होने वाली इस योजना के संचालन के लिए चुनिंदा और अनुभवी रोपवे संचालक कंपनियों से संपर्क किया गया है।

परियोजना से जुड़े अधिकारियों की मानें तो इसे सीएम योगी आदित्यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्ट के रूप में देखा जा रहा है। पर्यटन विभाग की ओर से इसका पूरा खाका तैयार किया गया है। इस बार प्रयागराज आने वाले श्रद्धालु अब केबल कार के जरिए संगम, अक्षयवट व सरस्वती कूप सहित माघ मेला और कुंभ मेला का दर्शन कर सकेंगे।

Read Also
CM योगी के यूपी में अब एक और बवाल Kanpur Ring Road

हो जाओ तैयार, काशी घुमने का मज़ा अब पूरा बदल जायेगा

इस परियोजना की विशेषता ये है कि, महाकुंभ से पहले रोपवे की योजना पर कार्य आरंभ हो गया है। जिसमें झूंसी से अरैल के बीच तीन रोपवे स्टेशन बनाए जाएंगे, जिन पर 60 करोड़ रुपये से अधिक खर्च आने का अनुमान लगाया जा रहा है। तथा यह रोपवे अनुमान के अनुसार लगभग 5 किलोमीटर लंबा होगा।

जानकारी हेतु बता दें कि बीते कुंभ में 113 देशों से श्रद्धालु यहां आए थे। और मुख्यमंत्री ने वर्ष 2025 के महाकुंभ में 40 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं के आने की संभावना जताई है। इसलिए जो भी व्यवस्थाएं की जाएंगी वह 40 करोड़ श्रद्धालुओं काे दृष्टिगत रखते हुए की जाएगी। और इसमें महत्वपूर्ण यह है कि यह तैयारियां दीपावली-2024 को लक्ष्य बनाकर पूर्ण करने की तैयारी करें। इस अनुसार प्रयागराज रोपवे का निर्माण भी दीपावली 2024 तक पूर्ण हो जाने की संभावना है।

Ganga Yamuna Sangam
Ganga Yamuna Sangam

महत्वपूर्ण है कि महाकुंभ का धार्मिक आयोजन जिसे कि हम महाकुंभ मेले नाम से भी जानते हैं। इसकी मान्यता बहुत ही अधिक है और महाकुंभ मेले के अवसर पर प्रत्येक सनातनी प्रयागराज पहुंचकर संगम में स्नान करना चाहता है। तथा महाकुंभ आयोजन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की दृष्टि सदैव बनी रहती है और वे इसके भव्य व सुविधाजनक आयोजन के लिए सदैव तत्पर रहते हैं। इसी कारण से योगी राज में यह धार्मिक आयोजन प्रत्येक वर्ष अपने विराट व भव्य स्वरूप में सभी अभिलाषीयों के आस्था का निर्वाहन करने में सक्षम होता है।

मित्रों यदि उपरोक्त में दी हुई प्रयागराज रोपवे परियोजना की जानकारी आपको पसंद आई हो तो कमेंट बाॅक्स में हर हर महादेव अवश्य लिखें।

अधिक जानकारी के लिए वीडियो देखें:-

video

Leave a Reply

Your email address will not be published.