वाराणसी को अंतर्राष्ट्रीय सौगात- International Cricket Stadium Varanasi

International Cricket Stadium Varanasi : देश में हो रहे विभिन्न आधारभूत संरचना विकास कार्यों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी भी बढ़ चढ़ कर भाग ले रहा है। तथा इसी क्रम में भारत का पहला ट्रांसपोर्ट रोपवे होने वाली काशी में अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण भी तीव्र गति से संचालित है जिसका शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 23 सितंबर 2023 को किया था। इससे अब नगर की एक और कमी जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की थी अब वह भी पूरी होने वाली है। क्योंकि वाराणसी में शीघ्र ही एक अंतरराष्ट्रीय स्तर का नगर का अपना स्टेडियम भी होगा। 

International Cricket Stadium Varanasi
International Cricket Stadium Varanasi

वाराणसी के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम परियोजना की जानकारी देने हेतु बता दें कि वाराणसी जिले में पूर्वांचल के पहले अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम को बनाने का कार्य संचालित है। यह स्टेडियम अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। इसके अतिरिक्त इस स्टेडियम का संचालन बीसीसीआई करेगा।

परियोजना की लागत, स्थान तथा विशेषताओं अधिक जानकारी हेतु बता दें कि वाराणसी के राजातालाब स्थित गंजारी में 451 करोड़ रुपए की लागत से उत्तर प्रदेश के बड़े क्रिकेट स्टेडियम को बनाने का काम किया जा रहा है। इसकी दर्शक क्षमता अभी 30 हजार की है। इसे 10 हजार और बढ़ाया जा सकता है। ऐसे में 40 हजार दर्शक एक साथ बैठकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच देख सकेंगे। इसकी बाबतपुर एयरपोर्ट व रिंग रोड से बेहतर कनेक्टिविटी होगी।

Read Also
नव्य स्वर्णिम होगा माता विंध्यवासिनी मंदिर कॉरिडोर का उद्घाटन

अब वाराणसी से होगा श्वेत क्रांति – Amul Milk Plant Varanasi

स्टेडियम की छत अर्द्धचंद्रकार होगी। डमरू के आकार की मीडिया गैलरी व लाउंज होंगे। वहीं भवन पर बेल पत्रों की डिजाइन बनेगी। स्टेडियम में नौ पिच और गंगा घाट जैसी सीढ़ियां होंगी। आधुनिक प्रैक्टिस ग्राउंड, पार्किंग अलग-अलग स्पोर्ट्स क्लब, बेहतर कनेक्टिविटी होगी।

यही नहीं प्रधानमंत्री के हाथों पहली बार गंजारी में क्रिकेट स्टेडियम का शिलान्यास का शिलापट्ट तीन भाषाओं में बनाए गए हैं। हिंदी और अंग्रेजी के साथ ही संस्कृत में अलग-अलग शिलापट्ट का अनावरण हुआ।

International Cricket Stadium Varanasi
International Cricket Stadium Varanasi

बता दें कि यह स्टेडियम यूपी के तीसरी और पूर्वांचल के पहले अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम के तौर पर तैयार हो रहा है। इसकी आधारशिला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 23 सितंबर को रखी है। तथा इस स्टेडियम को रिकॉर्ड समय में बनाने के लिए तीव्र गति से कार्य संचालित है।

यह भी महत्वपूर्ण है कि यह स्टेडियम पूर्वांचल ही नहीं अपितु इससे सटे हुए बिहार, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के युवा खिलाड़ियों के प्रतिभा को संवारने का भी उपयुक्त केंद्र बनेगा।

Read Also
PM Modi की काशी में दिखा नया कारनामा

शुरू हुआ अयोध्या श्री राम मंदिर निर्माण कार्य का द्वितीय अध्याय

परियोजना की वर्तमान परिस्थिति की जानकारी देने हेतु बता दें कि इसके निर्माण के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में देश की सबसे प्रसिद्ध संस्थाओं में से एक लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) को इसकी कार्यदायी संस्था बनाया गया है। तथा निर्माण कार्य करने हेतु कंपनी ने इसी स्थान पर अपना कार्यालय भी स्थापित कर दिया है। इसके अतिरिक्त गंजारी स्टेडियम का निर्माण करने वाले श्रमिकों के लिए आवास भी एक माह के भीतर ही बनाए हैं। तथा साइट कार्यालय भी बनाया गया है। जहां से एलएंडटी के अधिकारी निर्माण कार्यों की निगरानी करते हैं। स्टेडियम की भूमि पर बाउंड्री आदि की वर्तमान स्थिति भी आपके स्क्रीन पर उपलब्ध है।

यह भी बता दें कि इस पूरी प्रक्रिया में सितंबर 2022 से तीव्रता आयी है। भूमि क्रय के लिए 120 करोड़ रुपये का बजट कैबिनेट से स्वीकृत होने के पश्चात लगभग 31 काश्तकारों से भूमि क्रय हुई थी।

International Cricket Stadium Varanasi
International Cricket Stadium Varanasi

बता दें कि सभी अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस यह उत्तर प्रदेश का पहला क्रिकेट स्टेडियम होगा जिसका संचालन बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) करेगा। दीर्घकालिन लीज के अंतर्गत वह प्रत्येक वर्ष इसके प्रतिफल में 10 लाख रुपए सरकार को देगा। लगभग 31 एकड़ के विस्तृत परिसर पर बन रहे इस स्टेडियम के निर्माण में लगभग 451 करोड़ रुपये की लागत आएगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकसभा क्षेत्र वाराणसी में विकास का पहिया वर्ष 2014 से निरंतर तेजी से भाग रहा है। इसका प्रभाव काशी के चतुर्दिक हो रहे विकास से दिखाई दे रहा है। इसी क्रम में भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड (बीसीसीआइ) द्वारा वाराणसी में अंतरराष्ट्रीय स्तर का क्रिकेट स्टेडियम बनाने के लिए राजातालाब तहसील के गंजारी ग्राम में शीघ्र ही नवीन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम देखने को मिलेगा।

Read Also
वाराणसी देगी देश को नई दिशा, PM Modi ने सौंपा देश का पहला कचरे से कोयला बनाने का संयंत्र

Varanasi को पहले Expressway का PM Narendra Modi की बड़ी सौगात

विशेषताओं की अधिक जानकारी हेतु बता दें कि यहां पर राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय मैचों के अतिरिक्त बैडमिंटन, टेबल टेनिस, तैराकी, आत्मरक्षा के सभी खेलों की भी सुविधाएं मिलेंगी। स्टेडियम में आउटडोर स्पोर्ट्स मैदान, क्रिकेट प्रैक्टिस मैदान, क्लब हाउस भी होंगे। यह देश का पहला स्टेडियम है, जिसकी थीम धर्म है। महादेव को समर्पित डिजाइन में त्रिशूल के आकार की फ्लड लाइटें लगेंगी। वहीं डमरू आकार में लाउंज और मीडिया गैलरी होगी।

यही नहीं स्टेडियम में होने मैचों के लाइव प्रसारण के लिए 2000 स्क्वायर फिट का ब्रॉडकास्ट रूम (बीसीआर) बनाया जाएगा। 500 स्क्वायर फिट में कैंटीन और शौचालय, बस स्टैंंड की सुविधा होगी। सूत्रों के अनुसार इस स्टेडियम को जोड़ने के लिए एक VVIP मार्ग भी बनेगा।

International Cricket Stadium Varanasi
International Cricket Stadium Varanasi

इसके अतिरिक्त खिलाड़ी और मीडिया सुविधाएं, वीआईपी लाउंज, कारपोरेट बॉक्स, ओपन कार पार्किंग, कार चार्जिंग स्टेशन, पानी की टंकी, बारिश के पानी को संरक्षित करने की सुविधा, गोल्फ कार्ट, सड़क, सोलर पैनल, तरणताल, फूड कोर्ट आदि भी होंगे। इस स्टेडियम को डे नाइट मैच के लिए तैयार किया जा रहा है।

यह क्रिकेट स्टेडियम आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। इसमें वर्षा का जल निकलने के विशेष प्रबंध होंगे ताकि मानसून के सीजन में वर्षा के पश्चात सरलता के यहां मैच कराया जा सके। इसके अतिरिक्त इस स्टेडियम में खास एलईडी लाइट भी लगाई जाएगी। इस स्टेडियम में चार ड्रेसिंग रूम और तीन प्रैक्टिस ग्राउंड होंगे।

Read Also
लंदन अमेरिका व चाइना नहीं, हो रहा है विकसित भारत का उद्घाटन

क्या है दिल्ली वाराणसी बुलेट ट्रेन परियोजना की वर्तमान परिस्थिति? जानें

जानकारी हेतु बता दें कि उत्तर प्रदेश में अभी दो क्रिकेट स्टेडियम हैं। ग्रीनपार्क कानपुर और इकाना स्टेडियम लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय एक दिवसीय, टी-20 और टेस्ट मैच कराए जाते हैं। ग्रीन पार्क में 32 हजार तो इकाना में 50 हजार दर्शकों की क्षमता है। वाराणसी में भी अंतरराष्ट्रीय मैच होंगे। जिससे जिले के साथ ही पूर्वांचल के लोग भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट एक दिवसीय, टी-20 और टेस्ट मैचों में चौके-छक्के लगते देख सकेंगे।

महत्वपूर्ण है कि इस स्टेडियम को दिसंबर 2025 तक तैयार करने का लक्ष्य रखा गया है। तथा स्टेडियम तैयार होने के पश्चात वर्ष 2026 तक इस स्टेडियम में मैच खेला जा सकता है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण होने के पश्चात खेल जगत में वाराणसी को नई पहचान मिलेगी।

International Cricket Stadium Varanasi
International Cricket Stadium Varanasi

यह भी महत्वपूर्ण है कि इस स्टेडियम का निर्माण राजातालाब क्षेत्र में हो रहा है। यह क्षेत्र चारों ओर रिंग रोड और निकट से ही प्रयागराज हाइवे NH19 से घिरा हुआ है और स्टेडियम में खिलाड़ियों और दर्शकों के आने जाने के लिए चौड़ी चौड़ी सड़कें उपलब्ध हैं। शीघ्र ही इस क्षेत्र में भी कई और नये होटल खुलेंगे जिससे वाराणसी के इस क्षेत्र में विकास भी चरम पर होगा। भूमि के मूल्य में वृद्धि तो होगी ही साथ ही इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे।

मित्रों हम आशा करते हैं कि आपको वाराणसी के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम परियोजना की जानकारी पसंद आई होगी, तो कमेंट बाॅक्स में अपने गांव अथवा जिला का नाम अवश्य लिखें एवं यदि कोई सुझाव हो वह भी बताएं।

अधिक जानकारी के लिए वीडियो देखें:-

https://youtu.be/Et0fsFI6LiU
video

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *