PM Modi देंगे अयोध्या को इतिहास में सबसे बड़ी सौगात

Ayodhya International Airport Inauguration : भगवान श्री रामचंद्र के भव्य मंदिर के उद्घाटन से पहले अयोध्या में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का पीएम मोदी कर रहे हैं उद्घाटन और अब आप भगवान राम का दर्शन करने हेतु अयोध्या वायु मार्ग से अर्थात सीधा एयरपोर्ट से भी आ सकेंगे।

Ayodhya International Airport Inauguration
Ayodhya International Airport

Ayodhya International Airport Inauguration : अयोध्‍या में 22 जनवरी की तैयारियां जोरों पर हैं। इस दिन नवनिर्मित राम मंदिर का उद्घाटन और भगवान राम की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्‍ठा होनी हैं। प्रधानमंत्री इस आयोजन के चीफ गेस्‍ट के रूप में सम्मिलित होंगे। इस कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए देश भर के जानेमाने लोगों और साधु-संतों को निमंत्रण दिया गया है। परंतु 22 जनवरी से पहले 30 दिसंबर को पीएम मोदी अयोध्‍या के मर्यादा पुरुषोत्‍तम राम इंटरनेशल एयरपोर्ट का उद्घाटन करेंगे। इसके अतिरिक्त अयोध्‍या रेलवे स्‍टेशन से वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी भी दिखाएंगे।

बता दें कि यूपी की योगी सरकार अयोध्‍या में बन रहे भव्‍य राम मंदिर को इस प्राचीन नगरी के विकास से जोड़कर सबके सम्मुख प्रस्‍तुत कर रही है। इसीलिए मंदिर के साथ-साथ अयोध्‍या में आधारभूत सुविधाओं को भी विश्‍व स्‍तरीय बनाने पर कार्य पिछले काफी समय से संचालित है।

Read Also
राम मंदिर से पहले तैयार हुआ विश्व का सबसे बड़ा महामंदिर – Swarved Mahamandir

आ गई वो शुभ घड़ी रामलला होंगे विराजमान – Ayodhya Ram Mandir

और अब अयोध्‍या का श्रीराम इंटरनेशल एयरपोर्ट बनकर तैयार है। अब तक सीएम योगी आदित्‍यनाथ और उड्डयन मंत्री ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया यहां का निरीक्षण कर चुके हैं। इस एयरपोर्ट पर 30 दिसंबर को पहली उड़ान दिल्ली से लैंड करेगी। इसी दि‍न पीएम मोदी एयरपोर्ट का लोकार्पण करेंगे।

अयोध्या एयरपोर्ट के उड़ान की जानकारी से पहले हम आपको इस एयरपोर्ट की विशेषताओं की महत्वपूर्ण जानकारी हेतु बता दें कि इस एयरपोर्ट के टर्मिनल की छत को 14 कॉलम में बांटा गया है। ये 14 स्तंभ भगवान श्रीराम के 14 वर्ष के वनवास के समयावधि की मुख्य घटनाओं का प्रतीक होगा। इतना ही नहीं एयरपोर्ट के मुख्य प्रवेश द्वार पर एक भव्य सीढ़ीदार शिकार भी बनाया गया है। जो किसी मंदिर जैसी संरचना की अनुभूति कराती है।

Ayodhya International Airport Inauguration
Ayodhya International Airport (Inside view)

एयरपोर्ट पर उतारते ही यात्रियों और श्रद्धालुओं को इस बात का अनुभव हो जाएगा कि रामलला का मंदिर कितना भव्य बना है। दो मंजिला इस एयरपोर्ट में अयोध्या की समृद्ध विरासत और संस्कृति को दिखाया गया है। नक्काशीदार स्तम्भों पर रामायण की कलाकृति उकेरी गई है।

अधिक जानकारी हेतु बता दें कि एविएशन रेगुलेटर DGCA ने बीते दिनों अयोध्या हवाई अड्डे के लिए एयरोड्रम लाइसेंस जारी कर दिया है। इस एयरपोर्ट को सभी मौसम की स्थिति के लिए पब्लिक यूज कैटेगरी में एयर पोर्ट लाइसेंस दिया गया है। एयरपोर्ट में पूर्ण एयरोनॉटिकल ग्राउंड लाइट्स (AGL) इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ 2,200 मीटर लंबा रनवे तैयार है और DVOR और इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम (ILS) सपोर्ट है, जो हवाई अड्डे को रात में और कम विजिबिलिटी / RVR 550 मीटर के समयावधि में उड़ानों को लैंडिंग या टैकऑफ करने की अनुमति देता है।

Read also
CM योगी का स्वप्न हुआ साकार, माँ विंध्यवासिनी धाम ने लिया भव्य आकार

इस दिन नहीं होगी अयोध्या में राम लला के दर्शन Ayodhya Ram Mandir

यह भी बता दें कि इंडिगो कंपनी अयोध्या हवाई अड्डे से विमान का परिचालन करने वाली पहली एयरलाइन कंपनी होगी। इसके साथ, अयोध्या इस एयरलाइन का 86वां घरेलू गंतव्य होगा। पहली उड़ान दिल्ली से उद्घाटित 30 दिसंबर, 2023 को होकर के अयोध्या पहुंचेगी। तत्पश्चात, छह जनवरी, 2024 से दिल्ली और अयोध्या के मध्य सीधी उड़ान के लिए वाणिज्यिक परिचालन आरंभ होगा। 11 जनवरी, 2024 से अहमदाबाद और अयोध्या के बीच सप्ताह में तीन दिन उड़ानों का परिचालन होगा।

अधिक जानकारी हेतु बता दें कि बहुप्रतीक्षित अयोध्या हवाई अड्डे में 6,500 वर्गमीटर क्षेत्रफल वाला एक टर्मिनल भवन बन चुका है। यह व्यस्त अवधि के समय में 600 यात्रियों और वार्षिक 10 लाख यात्रियों को संभाल सकता है। अयोध्या में मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का विस्तारित रनवे ए-321/ बी-737 प्रकार के विमानों के संचालन के लिए उपयुक्त है।

Ayodhya International Airport
Ayodhya International Airport (Drone view)

आपको हम एक्सक्लूसिव ग्राउंड रिपोर्ट दर्शाते हुए बता दें कि वर्तमान समय में इस एयरपोर्ट का निर्माण कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। 821 एकड़ भूमि राज्य सरकार ने एयरपोर्ट अथारिटी ऑफ इंडिया (एएआइ) को उपलब्ध कराई है। जिसपर यह एयरपोर्ट बना है। और एएआइ की ओर से लगभग 350 करोड़ रुपये की लागत से विकसित किया गया है।

यह भी बता दें कि अयोध्या में पहले मात्र 178 एकड़ में बहुत छोटी सी एयरस्ट्रिप थी। पहले चरण के दौरान एयरपोर्ट के रनवे की लंबाई 2200 मीटर रखी गई है। इस एयरपोर्ट का आधिकारिक नाम मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Maryada Purushottam Shri Ram International Airport) है।

Read also
राम मंदिर के उद्घाटन से पहले बदल गया अयोध्या का नज़ारा

यूपी में हुआ एक और कारनामा, Solar Expressway Bundelkhand

परियोजना की जानकारी देने हेतु बता दें कि पहले चरण में 65 हजार वर्ग फुट का हवाईतल बन चुका है। इसकी क्षमता प्रतिघंटे 2 से 3 फ्लाइट की होगी। आरंभ में यहां 8 एप्रन बनाए गये हैं। वहीं पहले फेज के समीप ही दूसरे फेज के विमानतल को तैयार किया जाएगा, जोकि 5 लाख स्क्वाएर फुट का होगा। एयरपोर्ट अथॉरिटी की योजना द्वितीय चरण में 3,125 मीटर व तृतीय चरण में 3,750 मीटर लंबा रन-वे बनाने की है, जिस पर बड़े जहाज भी उतर सकेंगे।

श्रीरामजन्मभूमि पर एक ओर दिव्य-भव्य और चिरस्थायी मंदिर का निर्माण पूर्णता की ओर है, तो दूसरी ओर भगवान के नाम से निर्माणाधीन मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का टर्मिनल (मुख्य भवन) भी मंदिर की ही भांति आकार ले लिया है। एयरपोर्ट के टर्मिनल में सामने छह खंभे लगाए गए हैं।

Ayodhya International Airport
Ayodhya International Airport

बता दें कि 6500 वर्ग मीटर में निर्मित टर्मिनल में एक वृहद और 12 छोटे शिखर निर्मित किए गए हैं। एयरपोर्ट टर्मिनल में छह प्रवेशद्वार बनाए गए हैं। सभी गेट स्लाइडिंग (आटोमेटेड) होंगे। पूरा परिसर वातानुकूलित होगा। इसके साथ ही दो कनवेयर बेल्ट लगाई जा रही है, जिसमें एक पर एक्स-रे मशीन भी होगी। इन्हीं कनवेयर बेल्ट से यात्रियों का सामान एयरपोर्ट पर ले जाया जाएगा।

भारतीय विमान पत्तन प्राधिकरण के एयरक्राफ्ट द्वारा एयरपोर्ट के परिचालन से पूर्व एयरपोर्ट पर इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम (आईएलएस) में सम्मिलित विभिन्न घटकों तथा लोकलाइजर, ग्लाइड पथ, मार्कर, डी.एम.ई. आदि का कैलिब्रेशन भी किया जा चुका है। एक एप्रेन चार एयरक्राफ्टों के पार्किंग की सुविधा का शत प्रतिशत कार्य पूर्ण है तथा दूसरे एप्रेन चार एयरक्राफ्ट पार्किंग की सुविधा के कार्य भी अंतिम चरण में है। प्रथम चरण के संचालन के साथ ही यहां पर नाइट लैंडिंग की सुविधा के साथ कोहरे में भी विमानों के लैंडिंग की सुविधा भी उपलब्ध होगी।

Read also
अयोध्या को मिली उत्तर भारत की पहली बड़ी सौगात

बन रहा है वाराणसी का अपना रामपथ Sandaha Kachahari Fourlane Road

अधिक जानकारी हेतु बता दें कि प्रथम चरण में 2200 मिटर लंबा व 45 मीटर चौड़ा रन-वे बनकर तैयार है। तथा नवीन हवाई अड्डे पर निर्माणाधीन टर्मिनल 6500 वर्ग मीटर का है। परंतु तीसरे चरण के रनवे के निर्माण के पश्चात यहां उड़ानों की संख्या अत्यधिक बढ़ जाएगी। इसीलिए एक और टर्मिनल बनाने का निर्णय लिया गया है। अति व्यस्त रहने वाले हवाई अड्डों पर दो-दो, तीन-तीन टर्मिनल बने हैं। इसीलिए भविष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर 30 हजार वर्ग मीटर क्षेत्रफल में एक और टर्मिनल को बनाने का निर्णय लिया गया है, जिससे यात्रियों को आने-जाने में किसी प्रकार की कठिनाई नहीं हो और किसी एक पर लोड भी अधिक नहीं बढ़े।

महत्वपूर्ण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 जनवरी 2024 रामलला के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम से पहले अयोध्या एयरपोर्ट का लोकार्पण करेंगे। इससे पर्यटकों और श्रद्धालुओं को अयोध्या पहुंचने में काफी सुविधा होगी और यहां के पर्यटन विकास को नई ऊंचाई मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 दिसंबर को मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम हवाई अड्डे के लोकार्पण के साथ ही 3000 करोड़ रुपए की योजना अयोध्यावासियों को समर्पित करेंगे। इस अवसर पर वह एयरपोर्ट के सामने गंजा गांव के पास एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। इस समयावधि में अयोध्या रेलवे स्टेशन के नवनिर्मित खूबसूरत भवन के साथ कई नई योजनाओं को रामनगरी को समर्पित किया जाएगा। जिसमें की रामपथ, धर्मपथ, भक्ति पथ, जन्मभूमिपथ समेत कई योजनाओं सम्मिलित हैं।

Ayodhya International Airport
Ayodhya International Airport

मित्रों यदि आपको वीडियो में दी हुई अयोध्या हवाई अड्डे की जानकारी पसंद आई हो तो जय श्री राम कमेंट बाॅक्स में अवश्य लिखें एवं यदि कोई सुझाव हो वह भी बताएं, इसके अतिरिक्त यदि आप नए दर्शक हैं अथवा अभी आपने चैनल सब्सक्राइब नहीं किया है तो हमारे मनोबल में वृद्धि करने के लिए चैनल सब्सक्राइब अवश्य करें।

अधिक जानकारी के लिए वीडियो देखें:-

video

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *