PM मोदी की काशी को सौगात, 100 वर्षो पश्चात् माँ अन्नपूर्णा विराजेंगी अपने धाम

सौ वर्षों पूर्व चुरा कर कनाडा ले जाई गई मां अन्नपूर्णा की मूर्ति 14 नवंबर को काशी आ सकती है। केंद्र व प्रदेश सरकार की ओर से इसकी तैयारी हो रही है।

11 नवंबर को दिल्ली से मूर्ति प्रस्थान करेगी तथा सड़क मार्ग से 14 नवंबर को काशी पहुंचेगी। 15 नवंबर को प्रबोधिनी एकादशी के उदया तिथि पर मूर्ति की स्थापना की जाएगी। इस समयावधि में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में अनुष्ठान पूरा होने की बात कही जा रही है।

मूर्ति आगमन को लेकर भाजपा की ओर से राष्ट्रीय स्तर पर तैयारी हो रही है। मार्ग पर मूर्ति आगमन का भव्य स्वागत होगा। मूर्ति के भारत आगमन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने व्यक्तिगत तौर पर रुचि दिखाई है। कनाडा सरकार ने भारत के उच्चायुक्त को मूर्ति सौंप दी है। मूर्ति कनाडा की यूनिवर्सिटी आफ रेजिना में मिली है। मूर्ति के एक हाथ में खीर और दूसरे हाथ में अन्न है। कनाडा में आयोजित वर्ल्ड हेरिटेज सप्ताह के दौरान भारतीय कलाकार दिव्या मेहरा की नजर मूर्ति पर पड़ी थी तो उन्होंने इस मामले को राष्ट्रीय स्तर पर उठाया। सक्रियता के पश्चात उजागर हुआ कि मैकेंजी ने सौ साल पहले भारत की यात्रा की थी। उसी समय वह वाराणसी भी आए थे। माना जा रहा है कि इस मूर्ति को अन्नपूर्णा मंदिर से चोरी कर पहुंचाया गया था।

Also Read
देश के लिए मसाल बनेगी PM मोदी की वाराणसी

PM मोदी ने वाराणसी को दी भारत की पहली सांस्कृतिक लाउन्ज की सौगात
मूर्ति अब भारत लाई जा रही है। मैकेंजी आर्ट गैलरी में रेजिना यूनिवर्सिटी के संग्रह से मिली मां अन्नपूर्णा की मूर्ति को अंतरिम राष्ट्रपति और विश्वविद्यालय के उप-कुलपति थामस चेस ने कनाडा में भारत के उच्चायुक्त अजय बिसारिया को एक वर्चुअल समारोह में आधिकारिक रूप से इस मूर्ति की जानकारी दी। इस समारोह में मैकेंजी आर्ट गैलरी, ग्लोबल अफेयर्स कनाडा और कनाडा बार्डर सर्विसेज एजेंसी के प्रतिनिधि भी सम्मिलित हुए थे। अब यह मूर्ति भारत में वापस आने के साथ ही उम्मीद है कि अन्नपूर्णा दरबार का सौ वर्षों पश्चात एक अभिन्न हिस्सा भी बन जाएगी।
15 नवंबर को प्रबोधनी एकादशी की उदया तिथि


काशी हिंदू विश्वविद्यालय के ज्योतिष विभाग के प्रो. विनय कुमार पांडेय के अनुसार प्रबोधिनी एकादशी 15 नवंबर दिन सोमवार को मनाया जाएगा। एकादशी तिथि रविवार सुबह नौ बजे लग जाएगी जो सोमवार सुबह 8.51 बजे तक रहेगी। उदया तिथि का मान सोमवार को होने से एकादशी का व्रत लोग सोमवार को रखेंगे।

2 thoughts on “PM मोदी की काशी को सौगात, 100 वर्षो पश्चात् माँ अन्नपूर्णा विराजेंगी अपने धाम

  • November 2, 2021 at 2:56 pm
    Permalink

    Aapke dwara pradaan kari gayi jankari bahut acchi hoti hai.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *